13 vitamin chart hindi | amazing benefits of A, B, C, D, E, K

0
410

vitamin chart hindi

विटामिंस हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद हैं। यह हमें लंबे समय तक बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं। आज हम आपको आसान हिंदी शब्द में विटामिन कितने प्रकार (vitamin chart hindi) के होते हैं। इसके क्या फायदे है पूरी जानकारी इस लेख के माध्यम से साझा करेंगे।

1. विटामिन-ए (Vitamin-A)

विटामिन ए का रासायनिक नाम।

रेटिनॉल

विटामिन ए की खोज कब हुई?

सन- 1909 में हुई।

विटामिन ए की कमी के लक्षण

  • आंखों की रोशनी कम होना या चली जाना विटामिन ए की कमी के लक्षण है।
  • त्वचा ड्राई होना विटामिन ए की कमी का लक्षण है।
  • अगर गर्भधारण करने में समस्या आती है। तो महिला या पुरुष में विटामिन ए की कमी होती है। 
  • गले और छाती का इंफेक्शन बार बार होना। यह भी विटामिन ए की कमी का लक्षण हो सकता है।
  • शारीरिक विकास धीरे होना विटामिन ए की कमी का लक्षण हो सकता है। जिन बच्चों को पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए नहीं मिल पाता उनकी ग्रोथ में कमी हो सकती है।
  • चेहरे पर मुहासे होना विटामिन ए की कमी का लक्षण हो सकता है।
  • चोट लगना या सर्जरी होने के बाद गांव सही से नहीं भरना। विटामिन ए की कमी का लक्षण हो सकता है

विटामिन ए के फायदे। ( A vitamin chart hindi)

  • त्वचा के निर्माण और मरम्मत करने में विटामिन ए मददगार है। 
  • विटामिन ए शरीर को रोग मुक्त करके रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।
  • विटामिन ए आंखों की रोशनी तेज करता है, तथा आंखों के रोगों से बचाता है।
  • हड्डियों की सेहत हो निर्माण के लिए विटामिन ए फायदेमंद है।

विटामिन ए फूड्स

  • गाजर 
  • शकरकंद 
  • लाल शिमला मिर्च 
  • टमाटर
  • हरी मटर 
  • हरी धनिया 
  • हरी सब्जियां 
  • दूध 
  • मक्खन 
  • अंडा 
  • मछली 
  • कद्दू 
  • आम 
  • पपीता 
  • आड़ू
  • ड्राई फ्रूट

2. विटामिन-बी1 (vitamin chart hindiB1)

विटामिन बी1 का रासायनिक नाम।

थायमिन

विटामिन बी1 की खोज कब हुई?

सन- 1912 में हुई।

विटामिन बी1 की कमी के लक्षण और फायदे

  • विटामिन b1 की कमी के करण भूख में कमी आती है। इसलिए विटामिन b1 हमारी भूख को बढ़ाने में फायदेमंद है।
  • थकान और ऊर्जा की कमी होना विटामिन b1 का लक्षण है। आपको थकान और ऊर्जा कमी है तो विटामिन b1 सेवन फायदेमंद हो सकता है।
  • शरीर में चिड़चिड़ापन विटामिन b1 की कमी का लक्षण हो सकता है। इस समस्या को दूर करने में विटामिन b1 का सेवन लाभदायक है।
  • विटामिन b1 की कमी चलने और तालमेल को प्रभावित कर सकती है। इसलिए विटामिन b1 आपके लिए फायदेमंद है।
  • झुनझुनी, जलन और चुभन विटामिन b1 की कमी का लक्षण हो सकता है। इन सभी रोग में विटामिन b1 का सेवन करना फायदेमंद होता है।
  • लंबे समय तक मांसपेशियों की कमजोरी विटामिन b1 की कमी का लक्षण है। मांसपेशियों की कमजोरी में विटामिन b1 का सेवन करना फायदेमंद है।
  • विटामिन b1 की कमी से ऑप्टिक नर्व (Optic nerve) मैं सूजन आ सकती है। जिस से धुंधला दिखाई देने लगता है। इस प्रकार के रोगों से बचने के लिए विटामिन b1 का सेवन जरूर करें।
  • विटामिन b1 की कमी से हार्ट रेट यानी दिल की धड़कन में कमी हो सकती है। इसे संतुलित करने के लिए विटामिन b1 का सेवन फायदेमंद है।
  • दिमागी विकास में कमी विटामिन b1 की कमी का लक्षण हो सकता है। दिमाग के विकास में विटामिन b1 का बहुत बड़ा योगदान माना जाता है।

विटामिन बी1 का मुख्य स्रोत।

  • पालक 
  • मेथी 
  • बथुआ 
  • सरसों 
  • सेम 
  • चौलाई 
  • सोयाबीन 
  • ड्राई फ्रूट 
  • पनीर 
  • बाजरा
  • जौ 
  • मूंगफली 
  • साबुत अनाज

3. विटामिन-बी2 (vitamin chart hindi -B2)

विटामिन बी2 का रासायनिक नाम।

राइबोफ्लेविन

विटामिन बी2 की खोज कब हुई?

सन- 1920 में हुई।

विटामिन बी2 की कमी के लक्षण फायदे।

  • ऊर्जा में कमी होना विटामिन B2 का लक्षण है। इस समस्या को दूर करने के लिए विटामिन B2 का सेवन फायदेमंद है।
  • नसों से संबंधित समस्या में विटामिन B2 की कमी का लक्षण हो सकता है।
  • शरीर के किसी भी हिस्से पर सूजन विटामिन B2 की कमी का लक्षण हो सकता है। इस प्रकार की समस्या में विटामिन B2 का सेवन फायदेमंद होता है।
  • मोतियाबिंद होना विटामिन B2 का लक्षण हो सकता है। ऐसी समस्या से बचने के लिए विटामिन तो युक्त आहार सेवन करें।
  • लीवर तंत्रिका तंत्र में शहति

विटामिन बी2 का मुख्य स्रोत।

  • पालक 
  • मटर 
  • मशरूम 
  • शकरकंद 
  • लाल मिर्च 
  • अंडा 
  • मछली 
  • मीट 
  • चिकन 
  • किसमिस

4. विटामिन-बी3 (vitamin chart hindi -B3)

विटामिन बी3 का रासायनिक नाम।

पैंटोथेनिक एसिड

विटामिन बी3 की खोज कब हुई?

सन- 1936 में हुई।

विटामिन बी3 के फायदे।

  • हृदय रोग के लिए विटामिन B3 फायदेमंद होता है।
  • मधुमेह में विटामिन B3 का इस्तेमाल फायदेमंद होता है। 
  • कोलेस्ट्रोल रोगियों के लिए विटामिन B3 का सेवन लाभदायक होता है। 
  • शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए विटामिन बी3 का प्रयोग किया जा सकता है।
  • दिमाग से संबंधित बीमारियों में विटामिन डी का सेवन फायदेमंद होता है।

विटामिन बी3 का मुख्य स्रोत।

  • चिकन 
  • मीट 
  • मछली 
  • अंडा
  • ब्रोकली 
  • मूंगफली 
  • राजमा 
  • हरी मटर 
  • सूरजमुखी का बीज 

5. विटामिन-बी5 (vitamin chart hindi -B5)

विटामिन बी5 का रासायनिक नाम।

नियासिन

विटामिन बी5 की खोज कब हुई?

सन- 1931 में हुई।

विटामिन बी5 के फायदे।

  • विटामिन B5 में ऐसे गुण पाए जाते हैं। जो ग्रंथियों में से निकलने वाले हार्मोन क्रिया को ठीक करने में मदद करते हैं।
  • विटामिन B5 के सेवन से ह्रदय रोग के शुरुआती सूजन को कम करने में मदद करता है।
  • पर्याप्त विटामिन B5 की मात्रा लेने से मेटाबॉलिज्म बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • विटामिन B5 का सेवन तनाव को कम कर दिमाग को शांत करता है।
  • मजबूत यूनिटी के लिए सभी विटामिन की जरूरत होती है। जिसमें से एक विटामिन B5 भी है।

विटामिन बी5 का मुख्य स्रोत।

  • मशरूम, 
  • हरी पत्तेदार 
  • सब्जियां 
  • ब्रोकली 
  • बंद गोभी 
  • स्टॉबरी 
  • अंगूर 
  • नारंगी 
  • मक्के का दाना 
  • चना, अखरोट 
  • बदाम 
  • पिस्ता 
  • हरी पत्तेदार सब्जियां 
  • अंडे की जर्दी 
  • मछली, वनस्पति 
  • चावल

6. विटामिन-बी6 (vitamin chart hindi -B6)

विटामिन बी6 का रासायनिक नाम।

परोडोक्सामीन

विटामिन बी6 की खोज कब हुई?

सन- 1934 में हुई।

विटामिन बी6 के फायदे।

  • विटामिन बी6 की कमी से मूड खराब होने की समस्या हो सकती है। इसके प्रतिदिन सेवन हैप्पी हार्मोन बनाने में मदद करता है जिससे आपका मुंह ठीक रहता है।
  • विटामिन बी6 रक्त में हमोसिस्टीन (Homocysteine) नियंत्रण करता है। जिससे हार्ट से संबंधित रोग का कम रहता है।
  • विटामिन बी सिक्स की कमी से एनीमिया की समस्या हो सकती है। इसलिए डॉक्टर भी आयरन की गोली के साथ विटामिन बी6 की टेबलेट देते हैं।
  • विटामिन बी6 आंखों में वीकनेस की परेशानी हो सकती है। इसलिए आंखों के डॉक्टर विटामिन बी6 लेने की सलाह देते हैं।
  • अस्थमा के रोग में विटामिन बी सिक्स फायदेमंद होता है। यह अस्थमा अटैक से बचाने में मदद करता है।
  • विटामिन बी सिक्स अनिद्रा का कारण भी हो सकता है। इसकी पर्याप्त मात्रा अनिद्रा की समस्या को दूर करती है।

विटामिन बी6 का मुख्य स्रोत।

  • किला 
  • मटर 
  • गाजर 
  • शिमला मिर्च 
  • शकरकंद 
  • ब्रोकली 
  • शलजम 
  • पालक 
  • अंडा 
  • चिकन 
  • एवोकाडो 
  • सूरजमुखी के बीज 
  • दूध

7. विटामिन-बी7 (vitamin chart hindi -B7)

विटामिन बी7 का रासायनिक नाम

बायोटिन

विटामिन बी7 की खोज कब हुई?

सन- 1931 में हुई।

विटामिन बी7 के फायदे।

  • विटामिन b7 की कमी से सारी ऊर्जा में कमी आती है यह मुख्य रूप से कार्बोहाइड्रेट और चीनी को ऊर्जा में परिवर्तित करता है जिससे शरीर ऊर्जावान और चुस्त-दुरुस्त रहता है।
  • विटामिन b7 यानी बायोटीन की कमी से बालों से संबंधित समस्या हो सकती है। इसके पर्याप्त मात्रा से बाल लंबे घने मजबूत बनते हैं।
  • विटामिन b7 थायराइड को नियंत्रण करने में मदद करता है।

विटामिन बी7 का मुख्य स्रोत।

  • अंडा 
  • मांस 
  • मछली 
  • दूध दही 
  • पनीर 
  • ओटमील 
  • भुने हुए 
  • सूरजमुखी के बीज 
  • अनाज 
  • चॉकलेट 
  • पालक 
  • ब्रोकली 
  • शकरकंद

8. विटामिन-बी9 (vitamin chart hindi Vitamin-B9)

विटामिन बी9 का रासायनिक नाम

फोलिक एसिड

विटामिन बी9 की खोज कब हुई?

सन- 1941 में हुई।

विटामिन बी9 के फायदे।

  • विटामिन B9 कैंसर  जैसे बड़े खतरे को पनपने से रोकता है।
  • चिंता तनाव विटामिन B9 की कमी  का कारण हो सकता है  ऐसे में पर्याप्त मात्रा में फोलिक यानी विटामिन B9 सेवन करना फायदेमंद होता है।
  • जो लोग एनीमिया रोग से पीड़ित हैं, उन्हें ऐसे आहार का सेवन करना चाहिए। जिसमें विटामिन B9 यानी फोलिक ऐसी पाया जाता है। 

विटामिन बी9 का मुख्य स्रोत।

  • सूरजमुखी के बीज 
  • पालक 
  • ब्रोकरी 
  • मटर 
  • हरी पत्तेदार सब्जियां

9. विटामिन-बी12 (vitamin chart hindi Vitamin-B12)

विटामिन बी12 का रासायनिक नाम।

साइनोकोबलमीन

विटामिन बी12 की खोज कब हुई?

सन- 1926 में हुई।

विटामिन बी12 के फायदे

  • विटामिन B12 की कमी से थकान आलस महसूस होता है। इसके पर्याप्त मात्रा का सेवन शरीर को ऊर्जा देता है।
  • विटामिन B12 की कमी से चेहरे पर झुर्रियां आ सकती हैं। इसलिए अपनी डाइट में विटामिन B12 शामिल करें। जो आपकी त्वचा को जवान बनाने में फायदेमंद है।
  • विटामिन B12 की कमी से विद्या से संबंधित समस्या हो सकती है। यह हृदय को स्वस्थ रखने में फायदेमंद है।
  • विटामिन B12 की कमी से बोलने की समस्या हो सकती है। ऐसे में स्टूडेंट पर्याप्त मात्रा में विटामिन B12 लेते हैं। उन्हें पढ़ा हुआ याद रखने में मदद मिलती है।

विटामिन बी12 का मुख्य स्रोत।

  • मीट 
  • मछली 
  • अंडा 
  • चिकन 
  • दूध 
  • दही 
  • पनीर 
  • हरी सब्जियां

10. विटामिन-सी (vitamin chart hindi Vitamin-C)

विटामिन सी का रासायनिक नाम।

एस्कोर्बिक एसिड

विटामिन सी की खोज कब हुई?

सन- 1912 में हुई।

विटामिन सी के फायदे।

  • विटामिन सी की कमी से ड्राई स्किन की समस्या हो सकती है। इसलिए पर्याप्त मात्रा में शरीर में विटामिन सी ड्राई स्किन में फायदेमंद है।
  • विटामिन सी की कमी से मुंह की दुर्गंध मसूड़ों से खून आने की समस्या हो सकती है। पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी लेने से इन समस्या में लाभ मिलता है।
  • विटामिन सी की कमी से शरीर रोगों की चपेट में जल्द आ जाता है। जो लोग पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी लेते हैं। उन की रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी रहती है, और वह बीमार कम पड़ते हैं।
  • बाल डल या दो मुंहे हो तो इसका कारण विटामिन सी की कमी हो सकता है। बालों समस्या में विटामिन सी लेना फायदेमंद होता है।

विटामिन सी का मुख्य स्रोत।

  • चुकंदर 
  • बंद गोभी 
  • चौलाई 
  • टमाटर 
  • नींबू हरा 
  • मूली के पत्ते 
  • धनिया 
  • पालक 
  • कटहल 
  • आंवला 
  • शलगम 
  • पुदीना 
  • अंगूर 
  • संतरा 
  • सेब 
  • केला 
  • बेरी 
  • कीवी 
  • तरबूज 
  • दूध 
  • मुनक्का

11. विटामिन-डी (vitamin chart hindi Vitamin-D)

विटामिन ए का रासायनिक नाम।

एर्गोकलसिफेरोल, कोलेलेकलीफेरोल

विटामिन डी की खोज कब हुई?

सन- 1918 में हुई।

विटामिन डी के फायदे।

  • ब्लड सरकुलेशन को ठीक रखने में विटामिन डी फायदेमंद है।
  • कैंसर जैसे रोगों से बचाने में विटामिन डी फायदेमंद होता है।
  • विटामिन डी की कमी से हड्डियां कमजोर पड़ सकते हैं। इसलिए विटामिन डी हमारी हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है।

विटामिन डी का मुख्य स्रोत।

  • मशरूम 
  • बदाम 
  • ओट्स 
  • सोया 
  • मिल्क 
  • संतरा जूस  
  • सूरज की किरणें

12. विटामिन-ई (vitamin chart hindi Vitamin-E)

विटामिन ई का रासायनिक नाम।

टोकोफेरोल

विटामिन ई की खोज कब हुई?

सन-1922 में हुई।

विटामिन ई के फायदे।

  • विटामिन
  • विटामिन ई की कमी से ड्राई स्किन की समस्या अधिक देखी जाती है। पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई लेने से इस प्रकार की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  • की कमी से ड्राई स्किन की समस्या अधिक देखी जाती है। पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई लेने से इस प्रकार की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  • विटामिन ई की कमी से बेजान बाल और डल की समस्या हो सकती है। विटामिन युक्त आहार डाइट में लेने से बालों से संबंधित समस्या में लाभ मिलता है।

विटामिन ई का मुख्य स्रोत।

  • अखरोट 
  • बादाम 
  • हेज़लनट 
  • काजू
  • मूंगफली 
  • सूरजमुखी के बीज
  • ब्रोकली 
  • पालक 
  • हरी पत्तेदार सब्जियां

13. विटामिन-के (vitamin chart hindi Vitamin-K)

विटामिन के का रासायनिक नाम

फीलोक्विनोन

विटामिन के की खोजकब हुई?

सन- 1929 में हुई।

विटामिन के के फायदे।

  • विटामिन K की कमी से ओस्टियोपोरोसिस की समस्या हो सकती है। इसलिए अपनी डाइट में विटामिन के आहार शामिल जरूर करें।
  • विटामिन K की कमी से हड्डियों की कमजोरी हो सकती है। हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए विटामिन युक्त आहार फायदेमंद होता है।

विटामिन के का मुख्य स्रोत।

  • पालक 
  • ब्रोकली
  • गोभी 
  • पत्ता गोभी 
  • टमाटर 
  • शिमला मिर्च 
  • हरी पत्तेदार सब्जियां 
  • दही 
  • पनीर 
  • मक्खन 
  • ग्रीन टी 
  • चिकन 
  • मछली 
  • अंडा 
  • स्टॉबरी 
  • अंगूर 
  • कीवी 
  • ब्लूबेरी 
  • अंकुरित 
  • अनाज 
  • सोयाबीन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here