ताकत बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा | 4 best strength boosting ayurvedic medicine in Hindi

0
46

1. strength boosting ayurvedic medicine in Hindi

शरीर में आई कमजोरी को दूर करने के लिए आयुर्वेद ने हमें कई संसाधन दिए हैं। इसमें ताकत बढ़ाने के लिए जड़ी बूटियों का बहुत बड़ा महत्व है। इन जड़ी-बूटियों में सबसे प्रमुख है, अश्वगंधा, शिलाजीत, सफेद मूसली, शतावरी और कुछ अन्य आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां हैं। जो शरीर की कमजोरी को दूर कर आप को बलवान बनाने में मदद करती है। ऐसे में अगर आप इन जड़ी-बूटियों का सेवन करते हैं। तो निश्चित आपकी कमजोरी दूर हो जाएगी। आज हम आपको आसान हिंदी शब्दों में इन ताकतवर आयुर्वेदिक दवा के बारे में बताएंगे। साथ ही आपको यह बताएंगे। आपको इसे कैसे लेना है और कितनी मात्रा में लेना है। पढ़ना जारी रखें।

ताकत बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा
strength boosting ayurvedic medicine in Hindi

आपको बता दें कि इन जड़ी-बूटियों के सेवन से ना केवल आपकी शारिरिक कमजोरी दूर होती है। बल्कि यह गुप्त रोग से बचाव कर बुढ़ापे को दूर रखता है। इसके सेवन से सेक्सुअल समस्या भी दूर होती है।

1 ताकत बढ़ाने के लिए अश्वगंधा का प्रयोग (Use of Ashwagandha to increase strength in Hindi)

आयुर्वेद में अश्वगंधा का इस्तेमाल ताकत बढ़ाने के लिए कई वर्षों से किया जा रहा है। आप आधा चम्मच अश्वगंधा पाउडर को हल्के गुनगुने दूध के साथ रात में सोने से पहले ले सकते हैं। ऐसा करने से आपकी शारिरिक कमजोरी दूर होगी। साथ ही यह शारीरिक थकान दूर करने में भी मददगार है।

2 ताकत बढ़ाने के लिए शिलाजीत का प्रयोग (Use of shilajit to increase strength in Hindi)

शारिरिक ताकत बढ़ाने के लिए शिलाजीत का सेवन फायदेमंद होता है। आपको शिलाजीत चावल के दाने के बराबर लेकर गाय के घी के साथ सेवन करना है। यह उपाय ताकत बढ़ाने के साथ-साथ आपको भरपूर ऊर्जा देगा। इसके अलावा इसके सेवन से आप बुढ़ापे से कुछ हद तक बचे रहेंगे।

3 ताकत बढ़ाने के लिए सफेद मूसली का प्रयोग (Use of Safed Musli to increase strength in Hindi)

ताकत बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक दवा में सफेद मूसली का भी काफी महत्व है। आपको सुबह शाम एक चम्मच मूसली चूर्ण को गुनगुने दूध के साथ सेवन करना है। ऐसा करने से शरीर में आई कमजोरी दूर होती है। इसके अलावा यह उपाय शरीर को ऊर्जा देता है। साथ ही रोगप्रतिरोधक क्षमता का बढ़ाने में भी मदद करता है।

4 ताकत बढ़ाने के लिए शतावरी का प्रयोग (Use of Shatavari to increase strength in Hindi)

शरीर की ताकत बढ़ाने के लिए शताब्दी का प्रयोग किया जा सकता है। इसे आप आधा चम्मच हल्के गुनगुने दूध के साथ ले सकते हैं। यह प्रयोग शारीरिक कमजोरी को दूर कर ऊर्जावान बनाता है।

2. आयुर्वेदिक दवा को कैसे लेना चाहिए (how to take ayurvedic medicine in Hindi)

इन सभी आयुर्वेदिक दवा को आप हल्के में गुनगुने दूध के साथ मिश्री डालकर लिया जा सकता है। 

चलिए नीचे की ओर बढ़ते है और लोगों द्वारा गूगल पर पूछे जाने वाले सवालों के जवाब देते है।

मर्दाना ताकत बढ़ाने के लिए क्या क्या खाना चाहिए?

मर्दाना ताकत बढ़ाने के लिए आप शिलाजीत, अश्वगंधा, सतावर और सफेद मुसली पाउडर का सेवन दूध के साथ कर सकते हैं। यह आयुर्वेदिक दवा शरीर में टेस्टोस्टेरॉन के स्तर को बढ़ाती है। जिससे मर्दाना ताकत बढ़ाने में उनसे मिलती है।

ताकत बढ़ाने की जड़ी बूटी कौनसी?

अश्वगंधा, शिलाजीत, शतावरी, सफेद और मुसली यह सभी जड़ी-बूटी ताकतवर है। इनके सेवन से शरीर को ताकत मिलती है और शरीर ऊर्जावान बनता है। इसके अलावा इन आयुर्वेदिक दवा के सेवन से कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं।

कमजोरी में कौन सा कैप्सूल खाएं?

कमजोरी दूर करने के लिए अश्वगंधा, शिलाजीत, सफेद मूसली और काली मूसली, जैसे इनग्रेडिएंट्स से बने कैप्सूल खाने चाहिए। डॉक्टर या आयुर्वेदिक एक्सपर्ट की सलाह से आप इनका सेवन नियमित रूप से कर सकते हैं।

घोड़े जैसी ताकत पाने के लिए क्या खाना चाहिए?

घोड़े जैसी ताकत पाने के लिए पतंजलि के कुछ प्रोडक्ट्स जैसे कि अश्वगंधा पतंजलि शिलाजीत का सेवन फायदेमंद है। इसके अलावा अश्वगंधा टेबलेट शिलाजीत गोल्ड टेबलेट भी फायदेमंद है। यह मर्दान ताकत बढ़ने में सहायक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here