महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे | 9 amazing benefits of shatavari for women

0
76

महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे और नुक्सान benefits of shatavari for women

आपको बता दें कि शताब्दी एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है। जिससे महिलाओं की कई प्रकार की समस्या का इलाज किया जा सकता है। शतावरी एक ऐसी जड़ी बूटी है, जिसका इस्तेमाल कर महिलाएं अपनी कई परेशानियों को दूर कर सकती हैं। आज हम आपको महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे और नुकसान बताने जा रहे हैं। शतावरी को कब खाना चाहिए शतावरी की तासीर कैसी होती है और शतावरी चूर्ण को कैसे खाएं की जानकारी आसान हिंदी शब्दों में देने जा रहे हैं। पढ़ना जारी रखें

Benefits Of Shatavari For Women
benefits of shatavari for women

1. शतावरी के फायदे महिलाओं के लिए benefits of shatavari for women

1 शतावरी वजन कम करने में मददगार (Shatavari helps in reducing weight in Hindi)

महिलाओं के शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव के कारण वजन बढ़ने की समस्या अधिक हो गई है। बढ़ते वजन को रोकने के लिए महिलाएं शतावरी का उपयोग कर सकती हैं। क्योंकि इसमें सॉल्युबल फाइबर और इन सॉल्युबल फाइबर पाया जाता है। इसके अलावा शतावरी में 90 फ़ीसदी पानी की मात्रा पाई जाती है। साथ ही इसमें कैलोरी की मात्रा काफी कम होती है। महिलाओं के लिए बढ़ते वजन को कंट्रोल करने में शतावरी का सेवन फायदेमंद हो सकता है।

2 माइग्रेन के इलाज में लाभकारी (Beneficial in treating migraine in Hindi)

माइग्रेन एक ऐसी बीमारी है, जिससे मरीज को बहुत ज्यादा दर्द का सामना करना पड़ता है। इसमें पीड़ित मरीज को अचानक से तेज सिर दर्द होता है। महिलाओं में माइग्रेन की समस्या के लिए शतावरी जड़ी बूटी फायदेमंद हो सकती है। क्योंकि इसमें रायगढ़ फ्रॉम इन नाम का विटामिन पाया जाता है जिसे माइग्रेन के इलाज में प्रभावी माना जाता है। प्रतिदिन 30 ग्राम शतावरी का सेवन माइग्रेन से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है। यदि आपको पहले से किसी प्रकार की कोई परेशानी है, तो इसका सेवन एक्सपर्ट के सलाद से करें।

3 गर्भावस्था में शतावरी के फायदे (benefits of shatavari in pregnancy in Hindi)

बताओ जी का सेवन करना गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद हो सकता है क्योंकि इसमें फोलेट नाम का तत्व पाया जाता है। जो गर्भ में पल रहे बच्चे और मां दोनों के लिए ही फायदेमंद होता है इसके अलावा भ्रूण में पल रहे बच्चे का मानसिक विकास भी अच्छे से होता है। 

4 यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन से बचाव में उपयोगी (Useful in preventing urinary tract infection in Hindi)

यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन मैं महिलाओं के लिए शतावरी का इस्तेमाल फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि इसमें विटामिन ए पाया जाता है। विशेषज्ञों के अनुसार विटामिन ए यूरिनरी इन्फेक्शन दूर करने में असरदार जड़ी बूटी का मानी जाती है। इसके अलावा यह किडनी की बीमारी दूर करने में असरदार है। इसका मुख्य कारण शतावरी के सेवन से यूरिन की मात्रा बढ़ जाती है। जिस कारण आपको बार-बार पेशाब आता है और पेशाब के द्वारा शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। जिससे आपकी किडनी लंबे समय तक स्वस्थ बनी रहती है।

5 पीरियड के दौरान फायदेमंद (beneficial during periods in Hindi) 

महिलाओं में पीरियड की परेशानीयों को दूर करने के लिए शतावरी फायदेमंद हो सकता है। इसके सेवन से पीरियड के दौरान होने वाले दर्द और ऐठन में आराम मिलता है।

6 पीरियड के दौरान कमजोरी में फायदेमंद 9Beneficial in weakness during period in Hindi)

अक्सर पीरियड के दौरान महिलाओं को सारी कमजोरी का सामना करना पड़ता है ऐसे में शतावरी का सेवन करना शारीरिक कमजोरी को दूर करने में मदद करता है। इसीलिए पीरियड के दौरान विशेषज्ञों द्वारा महिलाओं को शतावरी का सेवन करने की सलाह दी जाती है।

7 यौन क्षमता बढ़ाने में मददगार (Helpful in increasing sexual stamina in Hindi)

जिन महिलाओं में कामेच्छा की कमी आगई हो उनके लिए शतावरी जड़ी बूटी फायदेमंद हो सकती है। इसके सेवन से महिलाओं में सेक्स के प्रति रुचि में बढ़ोतरी होती है। इसके अलावा शतावरी शरीर में हार्मोन को बैलेंस करने में मदद करती है। साथ ही जिन महिलायों और पुरुषों की जीवन शैली व्यस्त है। उनके लिए भी शतावरी काफी फायदेमंद हो सकता है।

8 डायबिटीज के लिए है फायदेमंद (beneficial for diabetes in Hindi)

आजकल खराब जीवनशैली और खान पान के कारण, महिला और पुरुष दोनों में डायबिटीज की समस्या बढ़ती जा रही है। शतावरी का सेवन करना डायबिटीज की समस्या में काफी फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि शताब्दी में anti-diabetic गुण मौजूद होता है जो मधुमेह को कंट्रोल करने में सहायक माना जाता है 

9 थायराइड में लाभदायक (beneficial in thyroid in Hindi)

थायराइड जैसी समस्या में शतावरी का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। इसके सेवन से झड़ते बाल स्ट्रेट और ब्लड प्रेशर जैसी कई समस्याओं में फायदा हो सकती है।

शतावरी का सेवन करने से ऊपर बताएं शरीर को स्वास्थ्य फायदे होते हैं। लेकिन यह लाभ आपको जब ही मिलेंगे जब आप इसका सीमित मात्रा में सेवन करेंगे। यदि आप इसका अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो इससे शरीर को कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। आइए जान लेते हैं, शतावरी का अधिक मात्रा में सेवन करने से क्या नुकसान हो सकते हैं।

2. सतावरी के सेवन से नुकसान (Disadvantages of consuming Shatavari in Hindi)

  • शतावरी का अधिक सेवन से सांस लेने में दिक्कत और सीने में जलन की समस्या हो सकती है। क्योंकि इसमें पोटेशियम की मात्रा पाई जाती है यदि इसका अधिक सेवन किया जाए, तो शरीर में पोटैशियम की मात्रा बढ़ जाती है। जिस कारण सांस लेने में दिक्कत और सीने में जलन की समस्या हो सकती है।
  • शतावरी के अधिक सेवन से उल्टी और थकावट की समस्या देखी जा सकती है। क्योंकि इसके पोषक तत्वों में कैल्शियम भी मौजूद होता है। जो इस समस्या को बढ़ाने का कारण बन सकता है।
  • शतावरी के अधिक सेवन से मोटापे की समस्या भी हो सकती है। वैसे तो इसमें कार्बोहाइड्रेट कम होता है। यह वजन घटाने में सहायक होता है। लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन किया जाए, तो यह वजन बढ़ाने का कारण भी बन सकता है।

अभी तक हमने आपको शतावरी के फायदे और इसके अधिक सेवन से क्या नुकसान होते हैं बताएं हैं। लेकिन आपको हम एक बात और बता दें कि अगर आप शतावारी का सेवन करना चाहते हैं। तो किसी एक्सपर्ट की सलाह से करें। अगर आपको पहले से ही किसी प्रकार की कोई समस्या है। तो इसका सेवन करने से पहले आप एक्सपर्ट की राय जरूर लें।

आइए अब नीचे की ओर बढ़ते हैं और पब्लिक द्वारा गूगल में पूछे जाने वाले सवाल के जवाब को देखते हैं जिसे हम एफ ए क्यू (FAQ) भी कहते हैं

FAQ

क्या शतावरी गर्म होती है

शतावरी की तासीर ठंडी होती है इसके सेवन से शरीर का तापमान कम करने में मदद मिलती है।

शतावरी कब खाना चाहिए

शतावरी का सेवन कब करना चाहिए यह व्यक्ति की बीमारी पर निर्भर करता है। यदि आपको पेट से संबंधित कोई समस्या है। इसका सेवन सुबह खाली पेट करना लाभदायक हो सकता है।

क्या शतावरी से वजन बढ़ता है

वैसे तो शताब्दी में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम पाई जाती है। जो वजन घटाने में मदद करती है, लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन से वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है।

शतावरी खाने से शरीर में क्या-क्या फायदे होते हैं

शतावरी खाने से शरीर को क्या फायदे हो सकते हैं जिसमें गैस्टिक की समस्या, प्रजनन, लो लिबिडो, पीसीओएस, सपन दोष और ब्रेस्ट साइज बढ़ाने में फायदेमंद हो सकता है।

शतावरी चूर्ण कैसे खाना चाहिए

शतावरी का चूर्ण दिन में दो बार दूध के साथ सेवन किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here