1. गाजर खाने के फायदे benefits of carrots for health

3
32

गाजर खाने के फायदे

गाजर खाने के फायदे
गाजर खाने के फायदे,

गाजर खाने के फायदे हैं। यह एक ऐसी सब्जी है, जिसे कई प्रकार से खाने में इस्तेमाल किया जाता है। जैसे सलाद मैं, सब्जी बनाने में,  अचार मुरब्बा बनाने में, गाजर का हलवा बनाने में, इसका इस्तेमाल और भी कई अन्य पकवान बनाने में किया जाता है। यह पोषक तत्व से भरपूर होता है। 

इसके सेवन से शरीर को कई बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है। जिससे शरीर स्वस्थ बना रहता है। आइए इस लेख के माध्यम से गाजर में पाए जाने वाले औषधीय गुणों को विस्तार से समझते हैं। इसके फायदों के बारे में यह किस प्रकार से हमारे  सेहत के लिए फायदेमंद होता है। 

1. गाजर के प्रकार

गाजर रंग के आधार पर इसके तीन प्रकार हैं।

  • लाल रंग की गाजर
  • पीले रंग की गाजर 
  • काली गाजर

लाल गाजर का उपयोग

गाजर खाने के फायदे- लाल गाजर को सर्दियों के मौसम में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। इसका इस्तेमाल सब्जियों के साथ साथ अचार मुरब्बे और गाजर का हलवा बनाने के लिए पूरे भारत में किया जाता है।

पीली गाजर का उपयोग

गाजर खाने के फायदे- पीली गाजर मैं पानी की मात्रा लाल गाजर के मुकाबले कम होती है यह गाजर थोड़ा सख्त होता है इसका इस्तेमाल ज्यादातर सलाद पुलाव सैंडविच पेटीज आदि में किया जाता है। साथ ही इसका इस्तेमाल केक बनाने के लिए भी किया जाता है। इसे कच्चा खाना बहुत कम लोग पसंद करते हैं, क्योंकि इसमें मिठास कम होता है।

काली गाजर का उपयोग

गाजर खाने के फायदे- गाजर खाने के फायदे- काली गाजर का इस्तेमाल ज्यादातर कच्चा ही किया जाता है यह सलाद बनाने के काम आता है साथ ही उत्तर भारत में पसंद किए जाने वाले पेय ले रूप में भी कांजी बनाकर इस्तेमाल किया जाता है। ऐसा माना जाता है। पीली और लाल गाजर से पहले काली गाजर की उपज होती थी। यह गाजर मार्च तक ही बाजार में उपलब्ध होती है।

2. गाजर खाने के फायदे

प्रतिदिन  कच्ची गाजर का प्रयोग

कच्ची गाजर के सेवन से कब्ज की समस्या दूर होती है। कब्ज कई बीमारी को जन्म देता है। जिससे शरीर में बड़े रोग पनपते हैं। उसने तो एक बड़ी बीमारी है, बाबासीर इसलिए गाजर का प्रतिदिन सेवन करने से पेट की समस्या दूर होती है। साथ ही आंतो में चिपकी गंदगी बाहर निकल जाती है।

पीलिया के रोग में गाजर का उपयोग

पीलिया के रोग में गाजर बहुत ही फायदेमंद माना जाता है गाजर में मौजूद आयरन और कई पोषक तत्व शरीर में खून बढ़ाने का काम करते हैं। जिससे पीलिया का खतरा टल जाता है। साथ ही अनन्या जैसी बीमारियों से भी लड़ने में मदद करता है।

गाजर खाने के फायदे
गाजर खाने के फायदे

3. गाजर से सौंदर्य उपचार

गाजर स्वास्थ्य रखने के साथ-साथ सौंदर्य को भी निकालने में मदद करती है। इसमें कई ऐसे गुण मौजूद होते हैं। जो चेहरे के दाग धब्बे, कील मुंहासे और झाइयां को कम करने तथा खत्म करने का काम करते हैं।

चेहरे पर निखार लाने के लिए गाजर का प्रयोग।

तीन से चार चम्मच गाजर के रखना अंडे की सफेदी को मिलाकर चेहरे पर फेस पैक की तरह लगा सकते हैं। 20 से 25 मिनट बाद मैंने पानी से धो लें, सप्ताह में यह प्रयोग दो से तीन बार करने से चेहरे पर एक अलग ही निखार देखने को मिलता है।

  • रात को सोने से पहले गाजर के रस को चेहरे पर मालिश करके रात भर छोड़ दे फिर सुबह ठंडे पानी से धोलें। यह प्रयोग प्रतिदिन करने से चेहरे पर निखार आता है। कील मुंहासे खत्म होते हैं। तथा दाग धब्बे के निशान भी दूर होते हैं।
  • गाजर के रस में टमाटर का प्रयोग

गाजर के रस में टमाटर का रस मिलाकर चेहरे पर लगाने से कील मुंहासे, दाग धब्बे और झाइयां खत्म होती हैं। यह प्रयोग प्रतिदिन करने से जल्दी लाभ होता है। साथ ही चेहरा मुलायम और चमकदार बनता है।

4. गाजर में पाए जाने वाले पोषक तत्व।

100 ग्राम बाजार में पाए जाने वाले पोषक तत्व।

  • कैलोरी 41 
  • फुल वाला 0.2 ग्राम 
  • संतृप्त वसा 0.ग्राम
  • बहुअसंतृप्त वास 0.1 ग्राम
  • मोनोअसंतृप्त बता 0 ग्राम 
  • ट्रांस बता 0 ग्राम 
  • कोलेस्ट्रोल 0 mg
  • सोडियम 69 एमजी 
  • पोटैशियम 320 mg
  • कार्बोहाइड्रेट 10 ग्राम 
  • आहारिय रेस 2.8 ग्राम
  • शर्करा 4.7 ग्राम 
  • प्रोटीन 0.9 ग्राम

गाजर में पाए जाने वाले विटामिन 

  • विटामिन ए 
  • विटामिन डी 
  • विटामिन बी 
  • विटामिन सी

5. gajar ke juice ke fayde

गाजर खाने के फायदे

प्रतिरक्षा में मददगार

गाजर में विटामिन ए और बीटा कैरोटीन पाया जाता है। जिससे यह शरीर मैं रोगाणुओं को पनपने से रोकता है और शरीर रोग मुक्त होता है। साथ ही प्रतिरक्षा प्रणाली बनी रहती है।

कोलेस्ट्रोल को नियंत्रण करता है

गाजर के जूस पोटेशियम का एक उत्कृष्ट स्रोत माना जाता है। जिससे कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। 

हड्डी के लिए फायदेमंद 

गाजर के गाजर के जूस मैं मौजूद विटामिन के हड्डियों की सेहत के लिए काफी उपयोगी है। इसके सेवन से शरीर को कैल्शियम मिलता है। साथ यह टूटी हुई हड्डियों को तेजी से सही करने में भी मददगार होता है।

लीवर के लिए फायदेमंद

गाजर के जूस का सेवन करने से लीवर में मौजूद विषैले पदार्थ को बाहर निकालने में मदद मिलती है। जिससे लीवर की कार्यप्रणाली अच्छी बनी रहती है और लीवर स्वस्थ रहता है।

संक्रमण में लाभकारी 

गाजर का जूस अपने एंटी वायरल गुणों के कारण प्रशिद्ध है। यह अंदरूनी और बाहरी संक्रमण के खतरे को रोकने में सक्षम होता है। जो लोग गाजर का जूस पीते हैं हमने संक्रमण का खतरा कम हो जाता है।

पेट की गैस में है फायदेमंद

यदि आप पेट की गैस से परेशान हैं, तो गाजर का जूस पीना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। यह पेट की गैस के साथ-साथ आंतो की गैस को भी बाहर निकालने में फायदेमंद माना जाता है। इसके सेवन से आप गैस की समस्या से बस सकते हैं।

अनियमित मासिक धर्म 

गाजर का रस का सेवन करने से अनियमित मासिक धर्म को नियमित करने में मदद मिलती है। साथ ही मासिक धर्म के दौरान होने वाले पेट दर्द को भी कम करने में फायदेमंद होता है।

आंखों के लिए है फायदेमंद

गाजर का रस beta-carotene से परिपूर्ण होता है। इसलिए नियमित रूप से इसका सेवन करने से आंखों की रोशनी तेज होती है तथा आंखों को स्वस्थ रखने में फायदेमंद होता है।

मसूड़ों के लिए लाभकारी 

गाजर के जूस का सेवन करने से मसूड़ों की समस्या को दूर किया जा सकता है। जैसे मसूड़ों की सूजन और मसूड़ों से खून आना मैं यह फायदेमंद साबित होता है।

स्तनपान में फायदेमंद 

जो महिलाएं बच्चों को स्तनपान कराती हैं। उनके लिए गाजर का जूस पीना काफी फायदेमंद हो सकता है। इसके सेवन से दूध के उत्पादन का स्तर बढ़ जाता है।

मांसपेशियों के लिए फायदेमंद 

गाजर के जूस का सेवन करने से मांसपेशियों को मजबूती मिलती है। इसमें मौजूद फास्फोरस मांसपेशियों को मजबूत बनाने के साथ-साथ उन्हें रिपेयर करने का भी काम करता है।

वजन घटाने मैं उपयोगी

गाजर के रस में मौजूद फास्फोरस शरीर में मोटा बोलियम के स्तर को बढ़ा देता है जिससे भजन घटाने में मदद मिलती है।

एनीमिया के खतरे से बचाता है 

गाजर के रस में मौजूद आयरन एनीमिया की बीमारी से लड़ने में सक्षम माना जाता है। एनेमिया की खतरनाक बीमारी से बचने के लिए गाजर के जूस का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है।

डायबिटीज से बकजता है

गाजर के जूस में पाए जाने वाले मैग्नीशिया, मैग्नीज और कैरोटूनोइड रक्त में शर्करा को कम करता है जिससे टाइप टू डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है।

बढ़ती उम्र के लक्षण 

गाजर का रस शरीर में बीटा कैरोटीन को विटामिन ए में परिवर्तित करके बढ़ती उम्र के लक्षणों को कंट्रोल करता है। जिस से त्वचा जवान लगती है। 

मुंह के छाले में है फायदेमंद 

यदि आप मुंह के छालों से परेशान हैं। गाजर का रस का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। गाजर के रस को पीते समय मुंह में थोड़ी देर रखें और थोड़ा सा मुंह के अंदर घूम आए जिससे छालों का उपचार होने में मदद मिलती है।

 अमाशय मैं अल्सर की समस्या

जिन लोगों को हम आपसे में अंतर की कीमत क्या है वह गाजर का रस का प्रयोग पालक के रथ के साथ मिलाकर कर सकते हैं जिससे यह समस्या दूर होने में मदद मिलती है

बच्चों में पेट के कीड़े की समस्या 

छोटे बच्चों में पेट में कीड़े होने की समस्या आम बात है। इस समस्या में गाजर का लाभकारी सिद्ध हो सकता है। गाजर के रस को सुबह खाली पेट लेने से पेट के कीड़े की समस्या दूर होती है। साथी बड़े व्यक्तियों में भी पेट के कीड़े की समस्या हो सकती है। वह भी गाजर के जूस का खाली पेट प्रयोग कर सकते हैं।

सर्दियों में गाजर खाने के फायदे

गाजर खाने के फायदे- दोस्तों सर्दियों के मौसम में आने वाली गाजर सर्दियों का सीजनल सब्जी माना जाता है। और सीजनल सब्जी का सेवन करना सभी तरह से स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है। चाहे वह किसी भी प्रकार की सब्जी हो फिर फल आदि। गाजर का सेवन करना आपके स्वास्थ्य के लिए कई तरह से फायदेमंद हो सकता है।

गाजर के अन्य भासा में नाम 

तमिल-गज्जरकिलंगु (गज्जरकिलंगु)

तेलुगु-गज्जरागेदा (गज्जरागेदा)

बंगाली-गजरा (गजरा)

नेपाली-गाजर (गजर)

फारसी-गाजर (गजर), जरदक

तुखमे-गज़ारी

संस्कृत-गर्जन

अंग्रेजी-कैरट 

उर्दू-गाजर (गज़ार)

कन्नड़-गज्जती

गुजराती-गाजर (गजर)

पंजाबी-गाजर (गजर)

मराठी-गजारा

मलयालम-कराफू।

अरबी-बजरूल, जज़ार (जज़ार)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here