आंखों की देखभाल 4 Tips To Keep Eyes Healthy

0
26

आंखों की देखभाल और घरेलू उपाय

आंखों की देखभाल
आंखों की देखभाल, आंखों की देखभाल

आंखों की देखभाल – आंखों हमारे शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा है। अगर आंखों की रोशनी कमजोर होने लगे। यह हमारे दैनिक जीवन को प्रभावित कर सकती है। जिससे हमें कई प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए आंखों की देखभाल करना बहुत जरूरी। आज के इस लेख में हम आंखों की देखभाल के साथ-साथ, आंखों की रोशनी कम होने कारण उनके बारे में बात करेंगे। साथ ही कुछ ऐसे खानपान और आंखों की एक्सरसाइज की जानकारी आपके साथ साझा करेंगे जो, आंखों की रोशनी को तेज करने में सहायक होते हैं।

1. आंखों का वीक होने का कारण। (Cause of eye week)

ज्यादा स्क्रीन  को देखना

ज्यादा देर तक कंप्यूटर, मोबाइल और टीवी देखने से आंख वीक होने की समस्या हो जाती है। स्क्रीन आंखों के लिए नुकसानदायक होती है। लगातार कंप्यूटर या लैपटॉप की स्क्रीन देखने से आंखें ड्राई होने लगती है, और डेड सेल्स सरफेस पर इकट्ठे होने लगते हैं। और यह डेड सेल्स ज्यादा इकट्ठे होने पर आंखों के नीचे डार्क सर्कल हो जाते हैं।

साथी आंखों की रोशनी भी कम होती है। लेकिन कई लोग तो ऐसे हैं, जिनकी जॉब कंप्यूटर लैपटॉप से जुड़ी है। ऐसे लोग हर 20 से 25 मिनट के बाद आंखों को रेस्ट देने के लिए कंप्यूटर या लैपटॉप को कुछ देर के लिए छोड़ दें। साथी ही इस दौरान पानी का सेवन करें जिससे उनकी आंखों को रेस्ट भी मिल जाएगा और पानी पीने से आंखों की ड्राइनेस भी कम हो जाएगी।

आंखों को मसलना

आंखों के आसपास खुजली होना स्वभाविक है, और खुजली होने पर लोग आंखों को बुरी तरह से मसलते हैं। जिससे आंखों के नीचे छोटी-छोटी ब्लड वेसल को अनजाने में डैमेज कर देते हैं। इसके अलावा अगर उंगलिया साफ ना हो तो, उंगलियों में मौजूद कीटाणु आंखों के अंदर प्रवेश कर जाते हैं। जिससे आंखों को नुकसान पहुंचता है। इसलिए आंखों की खुजली मिटाने के लिए हमेशा स्वच्छ और हल्के हाथों का इस्तेमाल करें।

ट्रेवल्स के दौरान

ट्रेवल्स के दौरान कई बार लोग बुक्स, मैगजीन और अखबार पढ़ते हैं। जिससे छोटे छोटे अक्षरों को सफर के दौरान पढ़ने में बड़ा ही ध्यान से देखना पड़ता है, साथ ही कई लोग मोबाइल में भी सफर के दौरान न्यूज़ वगैरह पढ़ना पसंद करते हैं। आंखों की समस्या से बचने के लिए सफर के दौरान हिलते दुलते पढ़ना अवॉइड करना चाहिए। इसके अलावा उबड़ खाबड़ वाले रास्ते पर भी पढ़ना अवॉइड करें।

सनग्लासेस कान्हा पहनना

आंखों की देखभाल के लिए धूप में निकलते वक्त सनग्लास का इस्तेमाल ना करना आंखों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। यहां एक फैशन ही नहीं बल्कि आंखों की सुरक्षा के लिए बहुत उपयोगी है। बिना सनग्लास के तेज धूप में निकलना आंखों के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। लगातार आंखों का यूवी रेज एक्स्पोज़र होने से आंखों का कॉर्निया बर्न हो सकता है। जिसके कारण आंखों को नुकसान पहुंचता है, और इससे कैटररेट भी हो सकता हैं। इसलिए एक अच्छा सनग्लास का इस्तेमाल करना आंखों के लिए फायदेमंद होता है।

कम लाइट में पढ़ना

बहुत से लोग कम लाइट यानी लैंप लगाकर पढ़ते हैं, या फिर अंधेरे में मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। ऐसा करने से आंखों पर जोर पड़ता है, और आंखों की रोशनी धीरे-धीरे कम होती है। इसलिए पढ़ने के लिए प्रॉपर लाइट का इस्तेमाल करें कम रोशनी में पढ़ने से बचें।

यह कुछ कारण है जो आंखों की रोशनी को कम करते हैं इसलिए इन सभी बातों का ध्यान रखें।

आंखों को हेल्दी रखने के लिए उपयोगी आहार
आंखों की देखभाल, आंखों की देखभाल

2. आंखों को हेल्दी रखने के लिए उपयोगी आहार (Useful diet to keep eyes healthy)

आंखों की देखभाल करना चाहते हैं कि आपकी आंखें लंबे समय तक हेल्दी तथा आंखों की रोशनी तेज रहे। आपको अच्छे आहार अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।

हरी पत्तेदार सब्जी का सेवन

हरी पत्तेदार सब्जी का सेवन करना आंखों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। सभी हरी पत्तेदार सब्जियों में Xeaxanthin और Lutein पाया जाता है जो आंखों के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है।

गाजर और आमला

गाजर और आंवला आंखों की रोशनी के लिए बहुत ही उपयोगी आहार है। गाजर में मौजूद बीटा कैरोटीन और विटामिन आंखों के लिए फायदेमंद होते हैं। इसके अलावा मैं विटामिन सी की मात्रा भरपूर पाई जाती है, जो आंखों की सेहत के लिए लाभकारी होती है। इसलिए सीजन में एक आंवले का सेवन जरूर करें।

ओमेगा 3 फूड का सेवन

ओमेगा 3 से भरपूर फूड का सेवन करना आंखों की हेल्थ के लिए उपयोगी माना जाता है। इसके लिए आप अखरोट, अलसी और सेलमोन मछली का सेवन कर सकते हैं। यह फूड आंखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार माने जाते हैं।

इलायची और सौफ

इलायची और सौफ शरीर के तापमान को संतुलित करने का काम करते हैं। साथ ही यह आंखों की रोशनी के लिए भी फायदेमंद होती है। ठंडे दूध में इलायची और सौफ का पाउडर मिलाकर पीने से आंखों की रोशनी तेज होती है।

अखरोट और बादाम

अखरोट में मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड ऑयल आंखों की रोशनी के लिए फायदेमंद होता है, तथा अखरोट में पाए जाने वाला विटामिन E आंखों की रोशनी तेज करने का काम करता है, इसके अलावा बदाम में भी विटामिन E और कई पोषक तत्व मौजूद रहते है, भीगे हुए बादाम का सेवन करना आंखों के लिए भी फायदेमंद होता है।

आंखों की समस्या के लिए आई ड्रॉप
आंखों की देखभाल, आंखों की देखभाल

3. आंखों की समस्या के लिए आई ड्रॉप (Eye drops for eye problem)

पतंजलि का ड्रॉप्स

पतंजलि का ड्रॉप्स आंखों की समस्या के लिए उपयोगी होता है। इसमें मौजूद इंगइडियन सफेद प्याज, अदरक, नींबू, शहद और Benzalkonium chloride आंखों के लिए फायदेमंद होते हैं।

हिमालया का आई ड्रॉप

हिमालय का आई ड्रॉप्स आंखों की समस्या के लिए उपयोगी माना जाता है इसमें मौजूद इंगइडियन शायद, आमला, हल्दी, vishnupuriya, शतावरी, यवानी, कपूर phenyl और mercuric nitrate आंखों की प्रॉब्लम को खत्म करने का काम करते हैं।

इसके अलावा मार्केट में कई प्रकार के आई ड्रॉप अवेलेबल है जिसका आप इस्तेमाल कर सकते हैं हाइड्रोपिक स्माल करने से पहले आप अपने आंखों के डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

आंखों की देखभाल

4. आंखों की एक्सरसाइज (eye exercises)

आंखों को स्वस्थ और हेल्दी रखने के लिए। आंखों की एक्सरसाइज करना बहुत जरूरी है। आंखों की एक्सरसाइज करने से आंखों की रोशनी तेज होती है। साथ ही जिन्ह लोंगो को चश्मा लगा है। उनके चश्मे के नंबर भी धीरे-धीरे कम होने लगते हैं। और चश्मे से छुटकारा दिलाने में मदद मिलती है।

आंखों को ऊपर नीचे करना

यह पहली एक्सरसाइज है जिसमें आपको आंखें ऊपर और नीचे करना है आप एक योगा पोजिशन में आरती पालथी मारकर नीचे बैठ जाएं और जितना हो सके, अपनी आंख को ऊपर ले जाएं फिर नीचे लाएं। इस एक्सरसाइज  को 10 बार करें।

आंखों को दाएं बाएं करना

इस एक्सरसाइज में आपको अपनी आंखों को दाएं और बाएं करना है। बिना बॉडी को हिलाए आंखें को 10 बार दाएं बाएं करें, जिससे आंखों की अच्छे से एक्सरसाइज हो जाती है। इस एक्सरसाइज को करने के बाद आंखें 10 से 15 सेकंड के लिए बंद करके आंखों को रेस्ट दीजिए और लंबी गहरी सांस लीजिए।

आंखों को गोल-गोल घुमाना

इस एक्सरसाइज में आंखों को ऊपर से लेकर नीचे तक गोल-गोल घुमाएं इससे आंखों की अच्छे से कसरत हो जाए। इस स्टेप को आपको 10 करें।

 सुबह के समय नंगे पैर घांस पर चलना

नंगे पैर घास में चलना आंखों के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा हरियाली भरे पेड़ पौधों को देखना भी आंखों के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए हो सके तो मॉर्निंग वॉक पर जरूर जाएं और सुबह घास पर जरूर चले।

इसके अलावा आंखों के लिए और भी कई एक्सरसाइज हैं जिसे आप कर सकते हैं हमारे द्वारा बताए गए 3 एक्सरसाइज को आप प्रतिदिन करते हैं तो आपकी आंखें स्वस्थ रहेंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here